क्या मैं अपने बिस्तर पर हनुमान चालीसा पढ़ सकता हूं?

अक्सर यह एक बड़ा सवाल सभी के में में आता रहता है कि क्या मैं अपने बिस्तर पर हनुमान चालीसा पढ़ सकता हूं? दोस्तो मैं आपको बता दू हनुमान चालीसा एक अनोखी और शक्तिशाली चालीसा है। जिसके उपयोग से आपके अनेक करी पूरे हो सकते हैं। आपको उसके अच्छे से पाठ करनी चाहिए जो नियमित रूप से आप करते रहे। क्योंकी इसमें आपके सभी परेशानियों का हल है।

क्या मैं अपने बिस्तर पर हनुमान चालीसा पढ़ सकता हूं?


इस सवाल का जवाब है हां, हर व्यक्ति अपने बिस्तर पर हनुमान चालीसा पढ़ सकते हैं। इसके प्रत्येक पाठ करने से आपको अपने अंदर शांति और प्रेरणा मिलेगी। बहुत सारे लोग इसका नियमित पाठ करते हैं सुबह उठे कर और शाम में सोने से पहले। क्योंकी हनुमान चालीसा में इसके अनेक शक्तियां होती है जो व्यक्ति इसका नियमित पाठ कर रहा हो उस अपने जीवन में हमेशा रक्षा होती हैं। जानें स्वामी तारक मंत्र

पढ़े पाप क्षमा मंत्र

सबसे शक्तिशाली चालीसा कौन सा है?

हनुमान चालीसा भगवान हनुमान जी को अति प्रिय है, जिसके पाठ के अपने अलग ही पुण्य मिलते हैं। और जिसने भी इस हनुमान चालीसा का पाठ किया है उनसे हनुमानजी भी बहुत प्रसन्न होते हैं। इसमें 40 पंक्तियाँ होती है इसलिए इसे हनुमान चालीसा कहा जाता है और इसे ही दुनिया का सबसे शक्तिशाली चालीसा माना जाता है। हनुमान चालीसा को उनके भक्त तुलसीदास जी ने लिखा था।

Hanuman Chalisa Pocket Book ( Hindi, Roman Hindi) Hardbound Premium Edition in a Gift

हनुमान चालीसा कब नहीं पढ़ना चाहिए?

वैसे तो कोई भी व्यक्ति हनुमान चालीसा कभी भी पढ़ सकता है पर उससे अपने में साफ रखकर ही पढ़ना चाहिए , पूरे भक्ति भाव के साथ अपना ध्यान हनुमानजी पर लगाकर हनुमान चालीसा पढ़ना चाहिए।

चालीसा कितने बजे पढ़ना चाहिए?

आप हनुमान चालीसा को सुबह पढ़ सकते हैं। शाम को भी पढ़ सकते हैं। 

क्या हम बिना नहाए हनुमान चालीसा पढ़ सकते हैं?

बिना स्नान किए भी आप हनुमान चालीसा को पढ़ सकते हैं। बस आपका मन इसके पाठ के लिए साफ होना चाहिए। आपके आस पास सफाई रखनी होगी। हनुमानजी को अपना आदर्श मानना होगा।  

Author: Allinesureya

2 thoughts on “क्या मैं अपने बिस्तर पर हनुमान चालीसा पढ़ सकता हूं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *